कोरोना अपडेट 01 जुलाई : राजधानी रायपुर में फिर हुई कोरोना से मौत, रायपुर में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोना के नए मरीज, जाने आज प्रदेश में कितने मरीजों की हुई पहचान    |    कोरोना अपडेट 30 जून : छत्तीसगढ़ में फिर शुरू हुआ कोरोना से मौत का तांडव, आज भी रायपुर से मिले सर्वाधिक मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 29 जून : राजधानी रायपुर में कोरोना मरीजों की संख्या हुई 226, आज प्रदेश में मिले इतने मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 28 जून : छत्तीसगढ़ में एक्टिव मरीजों की संख्या पहुंची 851, प्रदेश में आज इतने नए मरीजों की हुई पहचान, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 27 जून : प्रदेश में आज नए मरीजो की संख्या पहुची सौ के पार, एक्टिव मरीज हुए अब इतने, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 26 जून : कम टेस्ट के बावजूद मिले कल से ज्यादा मरीज, एक्टिव मरीज भी पहुचे सात सौ के करीब, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 25 जून : प्रदेश में हो रही है चौथी लहर की आहट आज मिले सौ के करीब कोरोना मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    वडोदरा में मिले एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस, क्या महाराष्ट्र में सरकार बनाने की तैयारी में है भाजपा!    |    कोरोना अपडेट 24 जून : राजधानी रायपुर में हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या पहुंची 600 के पार, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 23 जून : छत्तीसगढ़ में कोरोना मरीजों की संख्या पहुंची 600 के पार, आज प्रदेश में मिले इतने नए कोरोना मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े...    |
पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि, देखें अपने शहर के भाव

पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि, देखें अपने शहर के भाव

रायपुर। देश में पेट्रोल-डीजल के भाव आसमान छु रहे है। एक दिन थमने के बाद पेट्रोल और डीजल की कीमतों में आज एक बार फिर इजाफा कर दिया गया है। राजधानी रायपुर में आज 24 पैसे के बढ़त के बाद पेट्रोल 93.81 रूपए प्रति लीटर चल रहा है। वहीं 26 पैसे की बढ़त के बाद डीजल 93.56 रुपए प्रति लीटर चल रहा है।


राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत अब 95.56 हो गई है, जो अबतक सबसे ज्यादा कीमत है। वहीं, एक लीटर डीजल की कीमत 86.47 है. इस साल 4 मई के बाद अबतक 22वीं बार पेट्रोल और डीजल महंगा हुआ है।


बता दें कि देश के अलग-अलग हिस्सों में अब पेट्रोल ऐतिहासिक उच्चस्तर पर पहुंच चुका है। राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और लद्दाख समेत छह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के पार पहुंच गया है। वहीं, मुंबई में एक लीटर पेट्रोल अब 101 रुपए का मिल रहा है।


राजस्थान में देश में पेट्रोल और डीजल पर सबसे ज्यादा वैट लगाता है। उसके बाद मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का नंबर आता है। मुंबई देश का पहला महानगर है, जहां 29 मई को पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के ऊपर पहुंचा था। मुंबई में इस समय पेट्रोल 101.71 रुपए और डीजल 93.77 रुपए प्रति लीटर है।

 आज फिर बदला सोने और चांदी का भाव, जाने कितना सस्ता हुआ चांदी

आज फिर बदला सोने और चांदी का भाव, जाने कितना सस्ता हुआ चांदी

मुंबई। विदेशों में पीली धातु में रही मजबूती से घरेलू स्तर पर भी सोने की चमक बढ़ गई जबकि चांदी गिरावट में रही। एमसीएक्स वायदा बाजार में सोना 115 रुपये यानी 0.23 प्रतिशत चढ़कर 49,258 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। सोना मिनी भी 112 रुपये की मजबूती के साथ 49,023 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा।

चांदी 218 रुपये यानी 0.30 प्रतिशत लुढ़ककर 71,599 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव बिकी। चांदी मिनी 163 रुपये की गिरावट के साथ 71,676 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गई।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना हाजिर 0.10 डॉलर चमककर 1,898.85 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। अगस्त का अमेरिकी सोना वायदा भी 0.90 डॉलर की बढ़त के साथ 1,899.70 डॉलर प्रति औंस बोला गया। चांदी हाजिर 0.07 डॉलर फिसलकर 27.81 डॉलर प्रति औंस के भाव बिकी।
Samsung का प्रीमियम स्मार्टफोन सैमसंग गैलेक्सी S20 फैन एडिशन 5G पर बड़ी छूट,

Samsung का प्रीमियम स्मार्टफोन सैमसंग गैलेक्सी S20 फैन एडिशन 5G पर बड़ी छूट,

 फ्लिपकार्ट पर फ्लैगशिप फेस्ट सेल (Flagship Fest Sale)सेल का 8 जून (आज) आखिरी दिन है| जैसे कि नाम पता चलता है इस सेल में सैमसंग, ऐपल, रियलमी के फ्लैगशिप फोन को काफी सस्ते में खरीदे जा सकते है, बात करें कुछ बेस्ट डील्स की तो सेल में से सैमसंग के प्रीमियम फोन सैमसंग गैलेक्सी S20 फैन एडिशन (Samsung Galaxy S20 Fan Edition) 5G पर बड़ी छूट मिल रही है| सेल पेज से मिली जानकारी के मुताबिक बताया गया है कि ग्राहक इस फोन को सिर्फ 37,990 रुपये में घर ला सकते हैं| इसके अलावा फोन को 4,221 रुपये की EMI पर भी लाया जा सकता है, आइए जानते हैं कैसे हैं इस फोन के फुल स्पेसिफिकेशंस|

सैमसंग गैलेक्सी S20 FE 5G में 6.5 इंच का  SUPER AMOLED डिस्प्ले दिया गया है, जो कि 120hz के रिफ्रेश रेट, और 240Hz के टच सैंपलिंग के साथ आता है, ग्राहक इस फोन को तीन कलर ऑप्शन क्लाउ नेवी, क्लाउ मिंट और क्लाउट लैवेंडर में खरीद सकते हैं. गैलेक्सी S20 FE में फिंगरप्रिंट और बाकी निशान से बचाओ के लिए टेक्सचर हेज़ इफेक्ट दिया गया है| वहीं सेल्फी के लिए इस स्मार्टफोन के फ्रंट में f/2.2 अपर्चर के साथ 4K वीडियो और 60fps वाला 32 मेगापिक्सल का कैमरा दिया गया है| पावर देने के लिए फोन में 4,500mAh की बैटरी दी गई है, जो कि 25W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आती है, इसमें वायरलेस चार्जिंग 2.0 का सपोर्ट भी मिल रहा है|

 आरबीआई ने बीओआई और पीएनबी को ठोका 6 करोड़ का जुर्माना

आरबीआई ने बीओआई और पीएनबी को ठोका 6 करोड़ का जुर्माना

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंक ऑफ इंडिया और पंजाब नेशनल बैंक पर मानदंडों के उल्लंघन के लिए कुल मिलाकर 6 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया, जिसमें से एक उल्लंघन धोखाधड़ी के वर्गीकरण और उसकी सूचना देने के नियम से संबंधित है। बैंक ऑफ इंडिया पर 4 करोड़ रुपए का जुर्माना तथा पंजाब नेशनल बैंक पर 2 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया गया। आरबीआई ने एक बयान में कहा कि बैंक ऑफ इंडिया के पर्यवेक्षी मूल्यांकन (एलएसई) के लिए वैधानिक निरीक्षण 31 मार्च 2019 को किया गया था। बैंक ने एक खाते में धोखाधड़ी का पता लगाने के लिए एक समीक्षा की और धोखाधड़ी निगरानी रिपोर्ट (एफएमआर) सौंपी। आरबीआई ने एक अलग बयान में कहा कि वित्तीय स्थिति के संदर्भ में पंजाब नेशनल बैंक का वैधानिक निरीक्षण किया गया। केंद्रीय बैंक ने कहा कि जोखिम मूल्यांकन रिपोर्ट की जांच से पता चला कि इन मामलों में मानदंड़ों का पालन नहीं किया गया है। दोनों मामलों में सरकारी बैंकों को कारण बताओ नोटिस भेजे गए थे। उनसे पूछा गया था कि निर्देशों का पालन नहीं करने के लिए उन पर पेनल्टी क्यों न लगाई जाए। आरबीआई का कहना है कि नियामकीय अनुपालन में कमी के कारण दोनों बैंकों पर जुर्माना लगाया गया है।
आयकर विभाग ने लॉन्च किया नया ई-फाइलिंग पोर्टल

आयकर विभाग ने लॉन्च किया नया ई-फाइलिंग पोर्टल

आयकर विभाग (Income Tax Department) ने 7 जून, 2021 को अपना नया ई-फाइलिंग पोर्टल www.incometax.gov.in लॉन्च किया। गौरतलब है कि इससे पहले ई-फाइलिंग के लिए www.incometaxindiaefiling.gov.in पोर्टल का उपयोग किया जाता था। अब से इस नए ई-फाइलिंग पोर्टल के माध्यम से लोग अपना आयकर फाइल कर सकेंगे। इस नए ई-फाइलिंग पोर्टल का उद्देश्य करदाताओं को सुविधा और आधुनिक, निर्बाध अनुभव प्रदान करना है। करदाताओं को त्वरित रिफंड जारी करने के लिए यह  पोर्टल आयकर रिटर्न के तत्काल प्रसंस्करण के साथ एकीकृत है।

इस नए पोर्टल में करदाता द्वारा अनुवर्ती कार्रवाई के लिए सभी इंटरैक्शन और अपलोड या लंबित कार्रवाइयां एकल डैशबोर्ड पर दिखाई जाएंगी। अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न, ट्यूटोरियल, वीडियो और चैटबॉट या लाइव एजेंट के साथ करदाताओं के प्रश्नों के तत्काल उत्तर के लिए करदाता सहायता के लिए नया कॉल सेंटर भी उपलब्ध होगा। यह एक सरकारी एजेंसी है जो भारत सरकार के प्रत्यक्ष कर संग्रह का कार्य करती है। आयकर विभाग केन्द्रीय वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन काम करता है।  भारत के आयकर विभाग का गठन 1860 में हुआ था और इसका नेतृत्व केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) द्वारा किया जाता है।

 

 

 

 सोने-चांदी की कीमतों में आज फिर गिरावट, जाने कितना सस्ता हुआ सोना और चांदी

सोने-चांदी की कीमतों में आज फिर गिरावट, जाने कितना सस्ता हुआ सोना और चांदी

नई दिल्ली। सोने-चांदी की कीमतों में आज फिर गिरावट हुई है, सिर्फ ग्लोबल ही नहीं बल्कि भारतीय बाजार में भी सोने के दाम गिरे हैं, एमसीएक्स (MCX) पर सोना वायदा 0.08 फीसदी की गिरावट के साथ 48,953 रुपये प्रति 10 ग्राम पर है, जबकि चांदी वायदा 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 71,308 रुपये प्रति किलोग्राम पर है।

सोना अपने ऑल टाइम हाई से काफी सस्ता बिक रहा है, सोना फिलहाल अपने रिकॉर्ड हाई से लगभग 7000 रुपये सस्ता है, अगस्त 2020 में 10 ग्राम Gold की कीमत (10 Gram Gold Price Today) 56 हजार रुपये के पार पहुंच गई थी।

अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अमेरिकी डॉलर के मजबूत होने से सोने का दाम कम हुआ है, हाजिर सोना 0.2 फीसदी की गिरावट के साथ 1,886.76 डॉलर प्रति औंस पर था। हालांकि, अमेरिकी बॉन्ड यील्ड ने कीमती धातु में नुकसान को सीमित कर दिया, अन्य कीमती धातुओं में चांदी 0.7 फीसदी गिरकर 27.58 डॉलर प्रति औंस हो गई, जबकि प्लैटिनम 0.2 फीसदी बढ़कर 1,164.72 डॉलर हो गया।

गुड रिटर्न्स वेबसाइट के मुताबिक, देश की राजधानी समेत सभी महानगरों में 24 कैरेट गोल्ड का भाव अलग-अलग है, दिल्ली में 10 ग्राम सोने का रेट 51270 रुपये है, इसके अलावा चेन्नई में 50370 रुपये, मुंबई में 49320 रुपये और कोलकाता में 50720 रुपये प्रति 10 ग्राम है।

एचडीएफसी सिक्योरिटीज़ ने जानकारी दी थी कि राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में भी शुक्रवार को सोना 388 रुपये गिरकर 47,917 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया था, इसी तरह चांदी भी 920 रुपये की गिरावट के साथ 69,369 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई, जो पिछले कारोबारी सत्र में 70,289 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही थीं
 
आज फिर बढ़े दाम, 21 दिनों में 4.96 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल

आज फिर बढ़े दाम, 21 दिनों में 4.96 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल

नई दिल्ली, देश आज लगातार दूसरी बार पेट्रोल और डीजल के दामों में बढोत्तरी हुई है. सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों की मूल्य अधिसूचना के अनुसार पेट्रोल का दाम 28 पैसे प्रति लीटर और डीजल का 27 पैसे प्रति लीटर बढ़ाया गया है. अब दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 95.31 रुपए और एक लीटर डीजल की कीमत 86.22 रुपए हो गई है.


कई राज्यों में 100 के पार पहुंचा पेट्रोल


इससे देश के अलग-अलग हिस्सों में अब पेट्रोल ऐतिहासिक उच्चस्तर पर पहुंच गया है. राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और लद्दाख समेत छह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के पार पहुंच गया है.


मुंबई में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 101.52 रुपए


देश में राजस्थान पेट्रोल और डीजल पर सबसे अधिक वैट लगाता है. उसके बाद मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का नंबर आता है. मुंबई देश का पहला महानगर है, जहां 29 मई को पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के ऊपर पहुंचा था. मुंबई में इस समय पेट्रोल 101.52 रुपये और डीजल 93.58 रुपये प्रति लीटर है.


चार मई के बाद 4.96 रुपए महंगा हुआ पेट्रोल


इस साल चार मई के बाद पेट्रोल, डीजल के दाम में 21वीं बार वृद्धि हुई है. इस दौरान पेट्रोल का दाम 4.96 रुपए और डीजल का दाम 5.55 रुपए प्रति लीटर बढ़ा है. तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाजार में पिछले 15 दिन के भावों के औसत के आधार पर रोजाना घरेलू बाजार में दाम तय करतीं हैं.


स्थानीय करों मसलन मूल्य वर्धित कर (वैट) और ढुलाई भाड़े की वजह से राज्यों में ईंधन के दाम अलग-अलग होते हैं. वाहन ईंधन की खुदरा कीमतें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम बढ़ने की वजह से ऊपर जा रही हैं. निवेशकों को उम्मीद है कि बढ़ती मांग की वजह से बाजार ओपेक और उसके सहयोगियों के अतिरिक्त उत्पादन का उपयोग कर सकेगा. ब्रेंट कच्चा तेल इस समय 72 डॉलर प्रति बैरल के पास पहुंच गया है। यह दो साल में पहली बार इस स्तर पर पहुंचा है. 

वैवाहिक सीजन में फिर आई सोने की कीमत में उछाल, जाने क्या है आज का रेट

वैवाहिक सीजन में फिर आई सोने की कीमत में उछाल, जाने क्या है आज का रेट

नई दिल्ली | विदेशों में दोनों कीमती धातुओं में रही गिरावट के बीच घरेलू स्तर पर वैवाहिक मांग आने से सोना लगातार तीसरे सप्ताह मजबूत हुआ जबकि चांदी में गिरावट रही। एमसीएक्स वायदा बाजार में सोने की कीमत सप्ताह के दौरान 478 रुपये चढ़कर 49,020 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गई। सोना मिनी भी 247 रुपये की साप्ताहिक तेजी के साथ अंतिम कारोबारी दिवस पर 48,790 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ।

कई राज्य सरकारों द्वारा प्रतिबंधों में नरमी से सोने की रुकी हुई वैवाहिक मांग आनी शुरू हो गई है। इससे विदेशों में गिरावट के बावजूद घरेलू स्तर पर इनके दाम बढ़ रहे हैं।
वैश्विक स्तर पर बीते सप्ताह सोना हाजिर 13.10 डॉलर लुढ़ककर 1,891.40 डॉलर प्रति औंस रह गया। अगस्त का अमेरिकी सोना वायदा भी 12.20 डॉलर की बढ़त के साथ शुक्रवार को 1,894.10 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ।
घरेलू स्तर पर चांदी समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान 68 रुपये कमजोर हुई और सप्ताहांत पर 71,543 रुपये प्रति किलोग्राम बिकी। चांदी मिनी की कीमत 65 रुपये फिसलकर 71,585 रुपये प्रति किलोग्राम रही।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में चांदी हाजिर 0.12 डॉलर की साप्ताहिक गिरावट के साथ 27.81 डॉलर प्रति औंस पर रही।
पेट्रोल-डीजल के दाम रविवार को एक बार फिर बढ़ा, देंखे प्रमुख शहरों में प्रति लीटर दाम

पेट्रोल-डीजल के दाम रविवार को एक बार फिर बढ़ा, देंखे प्रमुख शहरों में प्रति लीटर दाम

रायपुर । तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दाम रविवार को एक बार फिर बढ़ा दिए। राजधानी रायपुर में पेट्रोल 26 पैसे की बढ़त के बाद 93.04 रूपए प्रति लीटर तथा 30 पैसे की बढ़ोतरी के बाद डीजल 92.70 रूपए प्रति लीटर चल रहा है। ज्ञातव्य है कि पिछले दो दिनों में कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ था।
वहीं देश के चार महानगरों में आज पेट्रोल की कीमत 27 पैसे तक और डीजल की 31 पैसे तक बढ़ाई गई। गत 4 मई से अब तक 19 दिन पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाये गये हैं जबकि शेष 15 दिन कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस दौरान दिल्ली में पेट्रोल 4.63 रुपये तथा डीजल 5.22 रुपये महंगा हो चुका है।
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल की कीमत 27-27 पैसे बढ़कर क्रमश: 95.03 रुपये 101.25 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई।
डीजल दिल्ली में 29 पैसे और मुंबई में 31 पैसे महंगा हुआ। एक लीटर डीजल की कीमत मुंबई में 93.30 रुपये और दिल्ली में 85.95 रुपये प्रति लीटर हो गई।
कोलकाता में पेट्रोल 26 पैसे महंगा होकर 95.02 रुपये और डीजल 29 पैसे महंगा होकर 88.80 रुपये प्रति लीटर पर रहा।
चेन्नई में पेट्रोल की कीमत 24 पैसे और डीजल की 28 पैसे बढ़ी। वहां एक लीटर पेट्रोल 96.47 रुपये और एक लीटर डीजल 90.66 रुपये का मिला।
पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।
 

SBI ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, 1 जुलाई से अब इन सुविधाओं के लिए देने होंगे सर्विस चार्ज

SBI ग्राहकों के लिए बड़ी खबर, 1 जुलाई से अब इन सुविधाओं के लिए देने होंगे सर्विस चार्ज

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ग्राहकों के लिए बड़ी खबर है। बैंक एक जुलाई से सर्विस चार्ज में बदलाव करने जा रहा है। अब एटीएम, चेक बुक, ब्रांच से पैसा निकालने पर शुल्क लगेगा। हालांकि, नया नियम सिर्फ बेसिक सेविंग अकाउंट होल्डर (BSBD) पर ही लागू होगा। आइए जानते हैं कि SBI किस सर्विस के नाम पर कितना पैसा वसूलेगा -
SBI ब्रांच से 4 बार से अधिक पैसा निकालने पर देना होगा शुल्क
बैंक के कस्टमर अगर महीने में बैंक से 4 बार से अधिक पैसा निकालते हैं, तब बैंक उनसे एडिशनल चार्ज वसूलेगा। इस ट्रांजैक्शन में बैंक के एटीएम भी शामिल हैं। सरल भाषा में कहें तो अगर आप महीने में चार बार से अधिक बार एसबीआई ब्रांच या एटीएम से पैसा निकालते हैं तो उसपर आपको 15 रुपये और जीएसटी जोड़ कर शुल्क देना होगा। यह चार्ज हर एक अतिरिक्त ट्रांजैक्शन पर लगेगा। यह नियम गैर एसबीआई ब्रांच पर भी लागू है।
ATM से पैसा निकालने पर भी लगेगा शुल्क
बीएसबीडी ग्राहक SBI एटीएम और गैर एसबीआई से अगर चार बार से अधिक पैसा निकालते हैं तो उन्हें सर्विस चार्ज का भुगतान करना होगा। सर्विस चार्ज के नाम पर बैंक को 15 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज देना होगा।
चेकबुक के लिए भी देना होगा अधिक पैसा
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बीएसबीडी खाता धारकों से 10 चेकबुक पर कोई चार्ज नहीं लेता है। लेकिन 10 के बाद 40 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज किया जाएगा। वहीं, 25 चेक वाली चेकबुक पर 75 रुपये चार्ज किए जाएंगे। जबकि इमरजेंसी चेकबुक पर 50 रुपये और जीएसटी चार्ज जोड़कर देना होगा। सीनीयर सिटीजन को इन सुविधाओं के लिए कोई पैसा नहीं देना होगा।
SBI BSBD अकाउंट क्या है ?
BSBD को आसान भाषा में जीरो बैलेंस अकाउंट बोला जाता है। इस बचत खाते की कई सारी खूबियां हैं। इस खाते में ग्राहक को एसबीआई के बचत खाते के बराबर ही ब्याज मिलता है, लेकिन साथ ही इस खाते में ग्राहकों को ऐसी कई स्पेशल सुविधाएं मिलती हैं, जो सामान्य बचत खाताधारकों को नहीं मिलती। इस खाते में ग्राहक को न्यूनतम बैलेंस रखने से छूट, फ्री एटीएम व डेबिट कार्ड और अधिकतम बैलेंस की सीमा से छूट सहित कई सुविधाएं मिलती हैं।
ये लोग खुलवा सकते हैं BSBD अकाउंट
एसबीआई बीएसबीडी अकाउंट को एसबीआई नेट बैंकिंग (SBI Net Banking) या एसबीआई ऑनलाइन सेवाओं के जरिए एसबीआई केवाईसी जरूरतों को पूरा कर खुलवाया जा सकता है। जिस किसी के पास वैध केवाईसी दस्तावेज हैं, वह यह अकाउंट खुलवा सकता है। इस खाते को व्यक्तिगत, संयुक्त, या उत्तराधिकारी आधार पर खाता खुलवाया जा सकता है। भारतीय स्टेट बैंक की वेबसाइट के अनुसार, इस समय बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट पर 2.75 फीसद सालाना की दर से ब्याज दिया जा रहा है।

 

"साँसे हो रही हैं कम - आओ वृक्ष लगाएं हम"के स्लोगन के साथ CAIT ने प्रदेश सहित देशभर में ऑक्सी भारत अभियान की शुरुआत की

"साँसे हो रही हैं कम - आओ वृक्ष लगाएं हम"के स्लोगन के साथ CAIT ने प्रदेश सहित देशभर में ऑक्सी भारत अभियान की शुरुआत की

रायपुरकन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी, चेयरमेन मगेलाल मालू,अमर गिदवानी, प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र दोशी, कार्यकारी अध्यक्ष विक्रम सिंहदेव, परमानन्द जैन, वाशु माखीजा, महामंत्री सुरिन्द्रर सिंह, कार्यकारी महामंत्री भरत जैन,  कोषाध्यक्ष अजय अग्रवाल एवं मीड़िया प्रभारी संजय चैबे  बताया कि ‘‘साँसे हो रही हैं कम-आओ वृक्ष लगाएं हम’’ के स्लोगन के साथ देश में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए कनफेडेरशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने विश्व पर्यावरण दिवस को देश भर में बड़े पैमाने पर मनाते हुए आज से देश भर के व्यापारियों को साथ लेते हुए एक बहुआयामी ष्ऑक्सीभारतष् राष्ट्रीय अभियान शुरू किया जिसमें 31 मई 2022 तक देश भर में 1 करोड़ वृक्ष लगाए जाने का संकल्प लियां वहीं इस एक वर्ष की अवधि के दौरान देश भर में 2 करोड़ व्यापारियों, उनके कर्मचारियों एवं ग्राहकों से एक संकल्प पत्र भरवाया जाएगा जिसमें पर्यावरण की रक्षा एवं  वर्ष भर में वृक्षारोपण अभियान को लगातार चलाने का संकल्प लिया जाएगा ।


इसी कड़ी में कैट सी.जी. चैप्टर ने कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं छत्तीसगढ चेम्बर ऑफ काॅमर्स के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी के द्वारा आज कैट सी.जी. चैप्टर के प्रदेश कार्यालय में वृक्षारोपण करके एक व्यापारी एक पेड़ अभियान की शुरूवात की गई एवं विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया।  कैट सी.जी. चैप्टर ने रायपुर , बिलासपुर, अम्बिकापुर, रायगढ, कोरिया, दुर्ग, भाटापारा, राजनांदगांव, धमतरी, कांकेर, कवर्धा, तिल्दा, कोरबा, महासमंुद सहित प्रदेश सभी ईकाइयो में विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया एवं एक व्यापारी एक पेड़ अभियान की शुरूआत अपने -अपने ईकाइयों में किया। कैट सी.जी. चैप्टर ने श्री मोहन वल्र्यानी को एक व्यापारी एक पेड़ अभियान का प्रदेश संयोजक नियुक्त किया है। 

कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी  एवं प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र दोशी ने बताया की ऑक्सीभारत जैसे राष्ट्रीय अभियान के अंतर्गत बड़े पैमाने पर देश के सभी राज्यों के विभिन्न शहरों के बाग-बगीचे, स्कूल-कॉलेज, अस्पताल एवं अन्य सार्वजानिक स्थलों पर व्यापारियों द्वारा बड़े पैमाने पर ष्स्मृति वनष् भी स्थापित किये जाएंगे जिसमें व्यापारी अपने परिवारों के दिवंगत हो चुके लोगों की स्मृति में एक साथ सौ से अधिक पौधे लगाएंगे और उनकी देखभाल भी करेंगे जिससे यह पौधे विकसित होकर बड़े वृक्ष का रूप लेंगे और न केवल पर्यावरण को संरक्षित करेंगे बल्कि ऑक्सीजन के प्रवाह की भी वृद्धि करेंगे । उन्होंने यह भी कहा की इस अभियान की सार्थकता जभी है जब देश में ’रेन वाटर हार्वेस्टिंग ’ को भी प्राथमिकता के स्तर पर शुरू किया जाए जिससे पौधों की आवश्यकता के अनुसार जल के द्वारा सिंचाई भी हो सके। यह इसलिए भी जरूरी है क्योंकि देश के अनेक भागों में जल की बड़ी कमी हैं क्योंकि जल का भू-स्तर काफी कम हो गया है ।

श्री पारवानी एवं दोशी ने बताया की आज इस अभियान को शुरू करते हुए देश सहित देश के विभिन्न राज्यों के 1100 से अधिक शहरों में व्यापारी संगठनों ने सार्वजनिक स्थानों पर एवं व्यापारियों ने अपने घरों में लगभग 2 लाख से अधिक पौधे लगाए जिसकी देख रेख भी व्यापारी संगठन एवं व्यापारी अपने निजी स्तर पर करेंगे। पूरे देश में लगभग 5 लाख संकल्प पत्र भी भरे गए एवं 1000 से अधिक स्मृति वन भी लगाए गए ।

श्री पारवानी एवं दोशी ने कहा की संपूर्ण देश में कोरोना संक्रमण से सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक 4 लाख लोगों की मृत्यु हो चुकी है और 30 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमण से प्रभावित हुए हैं जिसका बहुत बड़ा कारण ऑक्सीजन की कमी दिखाई दी है। उन्होंने कहा की कोरोना संक्रमण के बाद लोगों को पर्यावरण संरक्षण और ऑक्सीजन का महत्व समझ में आया है और उसी को ध्यान में रखते हुए कैट ने देश भर के व्यापारियों को एक साथ जोड़कर वृक्षारोपण के इस ऑक्सी भारत महाअभियान की शुरुआत की है। इस अभियान के साथ न केवल व्यापारी बल्कि ट्रांसपोर्ट, किसान, लघु उद्योग, महिला उद्यमी, अन्य सामजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक संगठनों सहित बड़े पैमाने पर समाज के सभी वर्गों को जोड़ा जाएगा।
श्री पारवानी एवं दोशी ने कहा की पेड़ों को धरती पर ऑक्सीजन का इकलौता एवं श्रेष्ठ स्त्रोत  माना जाता है। जब तक पर्यावरण में ऑक्सीजन नहीं होगी तो किसी भी प्लांट में जरूरत के लिए ऑक्सीजन का उत्पादन करना मुश्किल काम है, इसलिए बहुत जरूरी है कि हम पेड़ों को लगाने पर जोर दें और इसी उद्देश्य के साथ कैट ने इस अभियान को देश भर में शुरू किया है ! ’एक व्यापारी -एक पेड़ ’ पर जोर देते हुए कैट ने देश भर के व्यापारियों से अपील की है की वो एक पौधा अपने घर में एवं एक पौधा अपनी दूकान पर अवश्य लगाएं वहीं कैट ने सभी उद्योगों से भी आग्रह किया है की वो अपने कारखानों में ज्यादा से ज्यादा वृक्ष लगाने पर जोर दें ।

ऑक्सी भारत अभियान के राष्ट्रीय संयोजक एवं उत्तर प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय पटवारी ने बताया की इस अभियान के अंतर्गत विशेष तौर पर ज्यादा ऑक्सीजन देने वाले पौधों को रोपित किया जाएगा जिसमें विशेष तौर पर ’पीपल, बरगद, नीम, अशोक, जामुन, तुलसी, बांस ’ आदि को लगाने पर प्राथमिकता दी जायेगी । उन्होंने बताया की जमीन का अधिकांश हिस्सा समुद्री होने की वजह से समुद्री पौधे (मैरीन प्लांट्स) पृथ्वी को सबसे ज्यादा ऑक्सीजन देते हैं। बताया जाता है कि वातावरण में मौजूद 70 से 80 फीसदी ऑक्सीजन इन पौधे से से ही बनाई जाती है। ये पौधे जमीनी पौधों से ज्यादा ऑक्सीजन बनाते हैं। पत्तियां एक घंटे में 5 मिलीलीटर ऑक्सीजन बनाती हैं इसलिए जिस पेड़ में ज्यादा पत्तियां होती हैं वो पेड़ सबसे ज्यादा ऑक्सीजन प्रदान करते हैं !

श्री पारवानी एवं दोशी ने कहा की पीस लिली का पौधा वातावरण को स्वच्छ करने और वातावरण में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाने के लिए घर में लगाया जाता है। बहुत अधिक पत्तियों वाला ये पेड़ ऑक्सीजन की मात्रा बढाता है। इसलिए कैट ने देश के सभी व्यापारियों से इस पौधे को अपने घर में लगाने का आग्रह किया है। उन्होंने बताया की इस अभियान में देश के सभी राज्यों के 40 हजार से ज्यादा व्यापारी संगठन जुड़ कर पूरे देश में वृक्षारोपण के प्रति एक विशेष जन-जागरण अभियान भी चलाएंगे।

कार्यक्रम में कैट सी.जी. चैप्टर के पदाधिकारी एवं व्यापारीगण मुख्य रूप से उपस्थित रहे:- अमर पारवानी, जितेन्द्र दोशी, सुरिन्दर सिंह, विक्रम सिंहदेव, परमानन्द जैन, वाशु माखीजा, भरत जैन, कैलाश खेमानी, राम मंधान, सुभाष बजाज, सुनील धुप्पड़, अशोक मालू, निलेश मुंदड़ा, सुरज उपाध्याय, अजीत सिंह कैम्बों, महेश जेठानी, जयराम कुकरेजा, आशीष सोनी, कान्ती पटेल, सतीश श्रीवास्तव, मनोज बागड़ी, विपुल पटेल, मयंक त्रिपाठी, पराग शाह, चतुर सिंह, महेश शर्मा, तरूण मेहता, नीरज गुप्ता, कपिल दोशी, नरेश पाटनी, विजय जैन एवं अखिल पुजारा आदि ।

 

 आज फिर सस्ते हुए सोने और चांदी के रेट, जाने कितना सस्ता हुआ सोना और चांदी

आज फिर सस्ते हुए सोने और चांदी के रेट, जाने कितना सस्ता हुआ सोना और चांदी

मुंबई। विदेशों में दोनों कीमती धातुओं पर बने दबाव से घरेलू स्तर पर सोना 500 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी 1,100 रुपये प्रति किलोग्राम टूट गई। एमसीएक्स वायदा बाजार में सोना 512 रुपये यानी 1.03 प्रतिशत लुढ़ककर 49,089 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। सोना मिनी भी 437 रुपये की गिरावट में 48,912 रुपये प्रति 10 ग्राम पर रहा।

चांदी 1,100 रुपये यानी 1.41 प्रतिशत टूटकर 71,578 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव बिकी। चांदी मिनी 1,022 रुपये फिसलकर 71,664 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गई।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना हाजिर 16.80 डॉलर की गिरावट के साथ 1,891.60 डॉलर प्रति औंस रह गया। अगस्त का अमेरिकी सोना वायदा भी 15.60 डॉलर लुढ़ककर 1,894.30 डॉलर प्रति औंस बोला गया। चांदी हाजिर 0.38 डॉलर टूटकर 27.78 डॉलर प्रति औंस के भाव बिकी।
ब्याजदरों में कमीं, ईएमआई में राहत के फैसले का इन्तजार...

ब्याजदरों में कमीं, ईएमआई में राहत के फैसले का इन्तजार...

मुंबई कोरोना के मुश्किल दौर में ब्याजदरों में कमीं और ईएमआई में राहत की आस लगाए बैठे लोगों के लिए आज का दिन अहम होने जा रहा है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की तीन दिवसीय मौद्रिक नीति समिति की बैठक का शुक्रवार को आखिरी दिन है और नई पॉलिसी का ऐलान किया जाएगा। हालांकि राहत की उम्मीद कम ही है। कहा जा रहा है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के प्रकोप के चलते पैदा हुई अनिश्चितता के कारण नीतिगत दरों में यथास्थिति बरकरार रखने का फैसला लिया सकती है। समिति की पिछली बैठक अप्रैल 2021 में हुई थी, तब भी ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया था। इस समय रेपो दर चार प्रतिशत पर और रिवर्स रेपो दर 3.35 प्रतिशत पर है।

 जारी है सोने के दामों में उतार चढाव, जानिए क्या है आदम के भाव

जारी है सोने के दामों में उतार चढाव, जानिए क्या है आदम के भाव

नई दिल्ली। स्थानीय वायदा बाजार में बुधवार को सोने का भाव 88 रुपये की तेजी के साथ 49,513 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। हालांकि ये मामूली बढ़ोतरी है, यही वजह है कि सराफा बाजारोंं में सोने की डिमांड बनी हुई है।

मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अगस्त महीने की डिलिवरी के लिये सोने की कीमत 88 रुपये यानी 0.18 प्रतिशत की तेजी के साथ 49,513 रु प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 12,495 लॉट के लिये कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली करने से सोना वायदा कीमतों में तेजी आई। वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोने की कीमत 0.13 प्रतिशत की हानि के साथ 1,902.50 डॉलर प्रति औंस रह गई।
कोविड चुनौतियों के बावजूद रेलवे ने मई महीने में अब तक का सबसे अधिक माल लोड किया, जाने क्या रहा खास

कोविड चुनौतियों के बावजूद रेलवे ने मई महीने में अब तक का सबसे अधिक माल लोड किया, जाने क्या रहा खास

कोविड चुनौतियों के बावजूद, भारतीय रेलवे के लिए मई 2021 के महीने में माल ढुलाई के आंकड़े कमाई और लोडिंग की दृष्टि से उच्च गति बनाए हुए है। मिशन मोड में भारतीय रेल की माल ढ़ुलाई मई के महीने में सबसे अधिक रही। मई, 2021 में 114.8 एमटी माल ढुलाई हुई जो मई 2019 की इसी अवधि की माल ढुलाई (104.6 एमटी) से 9.7 प्रतिशत ज्यादा है।

मई, 2021 के दौरान ढुलाई की महत्वपूर्ण सामग्रियों में 54.52 मिलियन टन कोयला, 15.12 मिलियन टन लौह अयस्क, 5.61 मिलियन टन खाद्यान्न, 3.68 मिलियन टन उर्वरक, 3.18 मिलियन टन खनिज तेल, 5.36 मिलियन टन सीमेंट (धातु की तलछट छोड़कर) और 4.2 मिलियन टन धातु की तलछट शामिल हैं।

मई 2021 महीने में भारतीय रेल ने माल ढुलाई से 11604.94 करोड़ रुपए की कमाई की।

इस महीने वैगन टर्न अराउंड अवधि में 26 प्रतिशत का सुधार देखा गया। मई 2021 में वैगन टर्न अराउंड समय 4.81 दिनों का रहा जबकि मई 2019 में यह 6.46 दिन था।

यह ध्यान देने योग्य है कि भारतीय रेल में अनेक रियायतें/छूट दी जा रही हैं ताकि रेल द्वारा माल ढुलाई को आकर्षक बनाया जा सके।

साथ ही वर्तमान नेटवर्क में माल गाड़ियों की रफ्तार भी बढ़ाई गई है।

माल गाड़ियों की गति बढ़ाए जाने से सभी हितधारकों के लिए लागत में कमी आती है। पिछले 18 महीनों में माल ढ़ुलाई की गति दोगुनी हुई है।

कुछ मंडलों (लगभग 4 मंडलों) ने माल गाड़ियों की गति 50 किलो मीटर प्रति घंटे से अधिक दर्ज की है। भौगोलिक स्थितियों के कारण कुछ सेक्शन माल गाड़ियों को अच्छी गति दे रहे हैं। मई 2021 में माल गाड़ियों की औसत गति 45.6 किलो मीटर प्रति घंटे रही है जो समान अवधि की गति 36.19 किलो मीटर प्रति घंटे की तुलना में 26 प्रतिशत अधिक है।

भारतीय रेल ने कोविड-19 का उपयोग अवसर के रूप में किया है ताकि दक्षता और प्रदर्शन में चौतरफा सुधार हो सके।

 

पेट्रोल-डीजल की कीमतें लगातार दूसरे दिन बढ़कर पहुंची नये रिकॉर्ड स्तर पर

पेट्रोल-डीजल की कीमतें लगातार दूसरे दिन बढ़कर पहुंची नये रिकॉर्ड स्तर पर

नई दिल्ली। पेट्रोल-डीजल की कीमतें लगातार दूसरे दिन बढ़कर नये रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गईं। अग्रणी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली समेत देश के चार महानगरों में आज पेट्रोल की कीमत 26 पैसे तक और डीजल की कीमत 24 पैसे तक बढ़ी।

राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल 26 पैसे महंगा होकर 94.49 रुपये और डीजल 23 पैसे महंगा होकर 85.38 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। गत 04 मई से अब तक 17 दिन इनके दाम बढ़ाये गये हैं जबकि शेष 12 दिन कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस दौरान दिल्ली में पेट्रोल 4.09 रुपये तथा डीजल 4.65 रुपये महंगा हो चुका है।

मुंबई और कोलकाता में पेट्रोल 25-25 पैसे महंगा होकर क्रमश: 100.72 रुपये और 94.50 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। चेन्नई में इसकी कीमत 23 पैसे बढ़कर 95.99 रुपये प्रति लीटर हो गई। डीजल मुंबई में 24 पैसे, चेन्नई में 22 पैसे और कोलकाता में 23 पैसे महंगा हुआ और एक लीटर डीजल की कीमत मुंबई में 92.69 रुपये, चेन्नई में 90.12 रुपये और कोलकाता में 88.23 रुपये रही। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की रोजाना समीक्षा होती है और उसके आधार पर हर दिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

देश के चार महानगरों में आज पेट्रोल और डीजल के दाम इस प्रकार रहे:
शहर का नाम——पेट्रोल रुपये/लीटर——डीजल रुपये/लीटर
दिल्ली————— 94.49—————— 85.38
मुंबई-—————100.72—————— 92.69
चेन्नई—————-95.99-—————-90.12
कोलकाता————94.50—————-—88.23 
बैंक में जरूरी काम है तो पहले पढ़ लें ये खबर, इस महीने इन-इन तारीखों को बंद रहेंगे

बैंक में जरूरी काम है तो पहले पढ़ लें ये खबर, इस महीने इन-इन तारीखों को बंद रहेंगे

Bank Holidays in June 2021: देश में जानलेवा कोरोना वायरस की दूसरी लहर जारी है. इस बीच देश के लगभग सभी छोटे बड़े बैंक अपने ग्राहकों की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उन्हें ऑनलाइन सेवाएं दे रहे हैं. हालांकि कई राज्यों में जारी लॉकडाउन और अन्य पाबंदियों की वजह से बैंक या तो बंद हैं, या उनमें आवाजाही कम है. हालांकि अब कुछ राज्यों ने धीरे-धीरे पाबंदियों में ढील देनी शुरू कर दी है. जानिए जून में किस किस दिन बैंकों की छुट्टी रहेगी.


रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की ओर से बैंक की छुट्टियों की लिस्ट जारी की जाती है, इसमें राज्य के हिसाब से सभी बैंकों की छुट्टियां तय होती है. आरबीआई की तरफ से जारी छुट्टियों के मुताबिक, साप्ताहिक छुट्टियां और अन्य हॉलिडेज़ को मिलाकर इस महीने में कुल नौ दिन बैंक बंद रहेंगे. जून के महीने में कोई बड़ा त्योहार नहीं होता है. इसलिए ज्यादातर छुट्टियां रविवार और शनिवार के साप्ताहिक अवकाश हैं. कुछ राज्यों में लोकल त्योहारों की वजह से जून के महीने में बैंक बंद रहेंगे.


इस इस दिन बंद रहेंगे बैंक


6 जून- रविवार
12 जून- दूसरा शनिवार13 जून- रविवार
15 जून- मिथुन संक्रांति व रज पर्व (इजवाल-मिजोरम, भुवनेश्वर में बैंक बंद रहेंगे)
20 जून- रविवार
25 जून- गुरु हरगोविंद जी की जयंती (जम्मू और श्रीनगर के बैंक बंद रहेंगे)
26 जून- दूसरा शनिवार
27 जून- रविवार
30 जून- रेमना नी (केवल इजवाल में बैंक बंद रहेंगे)


हालांकि कोरोना की दूसरी लहर और लॉक डाउन के चलते बैंकों की सलाह तो यही है कि आप घर बैठे ऑनलाइन तरीके से ही इसकी कई सुविधाएं हासिल कर सकते हैं. अगर आपको कैश चाहिए तो वो भी सरकारी बैंक्स आपको घर लाकर देते हैं. चेक बुक, लाइफ सर्टिफिकेट से जुड़ी सेवाएं भी आपको घर बैठे मिल रही हैं.

 

कोविड-19 बीमारी के कारण मरने वाले श्रमिकों इस योजना के तहत मिलेगा लाभ, पढ़े पूरी खबर

कोविड-19 बीमारी के कारण मरने वाले श्रमिकों इस योजना के तहत मिलेगा लाभ, पढ़े पूरी खबर

श्रम और रोजगार मंत्रालय ने कोविड-19 बीमारी के कारण मरने वाले श्रमिकों के आश्रितों के लिए ESIC और EPF योजनाओं के तहत श्रमिकों के लिए अतिरिक्त लाभ की घोषणा की है। अतिरिक्त लाभ से मृत्यु की बढ़ती घटनाओं के बीच अपने परिवार के सदस्यों की भलाई के बारे में श्रमिकों के डर और चिंता में कमी आएगी। वर्तमान मानदंडों के अनुसार, यदि कोई बीमित व्यक्ति अपने कार्य के दौरान मर जाता है या विकलांग हो जाता है, तो उसकी पत्नी, विधवा मां और 25 वर्ष की आयु के बच्चों को कार्यकर्ता के औसत दैनिक वेतन के 90 प्रतिशत के बराबर आजीवन पेंशन दी जाती है। कन्या होने पर उसके विवाह तक लाभ प्रदान किया जाता है। यह योजना 24 मार्च, 2021 से भूतलक्षी (retrospectively) प्रभाव से लागू होगी।

अतिरिक्त लाभ कैसे प्रदान किया जाएगा?
बीमित व्यक्तियों के परिवार के सभी आश्रित सदस्य, जो कोविड-19 बीमारी से पहले ESIC के ऑनलाइन पोर्टल में पंजीकृत हैं और इसके कारण मृत्यु हो गई है, उन्हें बीमाकृत व्यक्तियों के आश्रितों को प्राप्त होने वाले समान लाभ और समान पैमाने पर दिया जाएगा।

शर्तें क्या हैं?
बीमित व्यक्ति को COVID-19 का निदान होने से तीन महीने पहले ESIC ऑनलाइन पोर्टल पर पंजीकृत होना चाहिए, जिसके परिणामस्वरूप मृत्यु हो गई।
उसे न्यूनतम 78 दिनों के लिए मजदूरी और योगदान के लिए नियोजित होना चाहिए।
Employees’ Deposit Linked Insurance Scheme (EDLI)
इस योजना के तहत, इस योजना के सदस्यों के परिवार के सभी जीवित आश्रित सदस्य श्रमिक की मृत्यु की स्थिति में EDLI का लाभ उठा सकते हैं। 

BREAKING NEWS: GST काउंसिल मीटिंग में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किए ये 6 बड़े ऐलान, जानिए आप पर होगा कितना असर

BREAKING NEWS: GST काउंसिल मीटिंग में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किए ये 6 बड़े ऐलान, जानिए आप पर होगा कितना असर

कोरोना (Coronavirus) की दूसरी लहर के बीच आज करीब सात महीने बाद जीएसटी परिषद (GST Council Meeting) की इस साल की पहली बैठक हुई। इस 43वीं GST काउंसिल की बैठक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कई अहम फैसले लिए हैं। सीतारमण ने बताया कि कोविड महामारी को लेकर मीटिंग विस्चार से चर्चा हुई और इसमें कई अहम फैसले लिए गए। आइए आपको बताते हैं कि इस मीटिंग में क्या फैसले हुए हैं:
1. 31 अगस्त तक राहत सामग्री के आयात में छूट
इस मीटिंग में निर्मला सीतारमण ने कोविड से जुड़ी राहत वस्तुओं के आयात में छूट देने का फैसला किया है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि परिषद ने 31 अगस्त तक मुफ्त COVID संबंधित सप्लाई पर IGST से छूट देने का फैसला किया है। बता दें कि अब तक, IGST छूट केवल तब मिलती थी जब आप मुफ्त में आयात कर रहे थे।
2. Amphotericin B भी IGST छूट में शामिल: केंद्र सरकार ने ब्लैक फंगस के मामलों को बढ़ता देख इसके इलाज में काम आने वाली दवा एंपोटेरिसिन-बी को भी टैक्स छूट की सूची में शामिल किया है।
3. GST कम्पेंशेसन के रूप में राज्यों को 1.58 लाख करोड़ रुपये मिलेंगे: वित्त मंत्री ने ऐलान किया है कि केंद्र सरकार राज्यों को GST कम्पेंशेसन के रूप में राज्यों को 1.58 लाख करोड़ रुपये देगी।
4. मेडिकल इक्विपमेंट्स पर GST रेट कट पर 8 जून तक आएगा फैसला: सीतारमण ने कोविड रिलेडेट मेडिकल इक्विपमेंट्स पर GST रेट कट को लेकर कहा कि इस पर चर्चा हुई है और फिटमेंट पैनल के सजेशन काउंसिल से सामने रखे गए हैं। ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स (GoM) इन पर विचार और विचार करेगी और रेट को लेकर 8 जून को रिपोर्ट दी जाएगी।
5. एनुअल रिटर्न फाइलिंग ऑप्शनल रहेगी: टैक्स के मोर्चे पर निर्मला ने कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 के लिए भी एनुअल रिटर्न फाइलिंग ऑप्शनल रहेगी। यह 2 करोड़ रुपये से कम के टर्मओवर वाले छोटे टैक्सपेयर्स के लिए ऑप्शनल रहेगी। उन्होंने ये भी कहा कि 2020-21 के लिए रेकन्सिलीऐशन स्टेटमेंट भी केवल उन करदाताओं को देनी होगी, जिनका कारोबार 5 करोड़ रुपये या उससे अधिक है।
6. GST टैक्सपेयर्स को लेट फीस से राहत मिलती रहेगी: वित्त मंत्री ने कहा कि आज लिया गया सबसे बड़ा फैसला छोटे टैक्सपेयर्स का बोझ कम करेगा. टैक्सपेयर्स को राहत देने के लिए चल रही amnesty scheme चालू रहेगी है, ताकि लेट फीस से राहत मिले। इससे करीब 89% GST टैक्सपेयर्स को राहत मिलेगी।

GST काउंसिल की बैठक में कोविड रिलेटेड मेडिकल इक्विपमेंट्स पर GST की दरों मे कटौती को लेकर केंद्र और राज्य सरकारों के बीच गहमागहमी चली। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि GST काउंसिल की बैठक में हमने कोरोना वैक्सीन, ऑक्सीजन सिलेंडर कंसंट्रेटर, ऑक्सीमीटर, पीपीई किट, सैनिटाइजर, मास्क, टेस्टिंग किट आदि को टैक्स फ्री करने का प्रस्ताव रखा था।

 

 फेसबुक का बड़ा फैसला: कोविड-19 को मानव निर्मित बताने वाले पोस्ट अपने प्लेटफॉर्म से नहीं हटाएगी

फेसबुक का बड़ा फैसला: कोविड-19 को मानव निर्मित बताने वाले पोस्ट अपने प्लेटफॉर्म से नहीं हटाएगी

वाशिंगटन। फेसबुक ने कहा कि वह अब अपने मंच से उन पोस्ट को नहीं हटाएगी जिनमें कोविड-19 को मानव निर्मित या उसका विनिर्माण किये जाने का दावा किया गया है। कंपनी ने कोविड-19 की उत्पत्ति को लेकर जारी जांच और सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श को ध्यान में रखते हुए ऐसा करना का फैसला किया है। फेसबुक काफी समय से कोविड से जुड़ी गलत सूचना की बाढ़ से निपटने के लिए संबंधित पोस्ट हटाता आ रहा है और उन पर चेतावनी के लेबल लगा रहा था। उदाहरण के तौर पर उसने दिसंबर 2020 में कहा था कि वह टीके से जुडी़ गलत जानकारी को हटा देगा।